IAS क्या होता है ? IAS, IPS या IFS कैसे बन सकते है ? सभी जानकारी

दोस्तों! आज हम जानेंगे की IAS क्या होता है ? IAS, IPS या IFS कैसे बन सकते है ? हम सब अपने एक उज्जवल भविष्य की कामना करते है। और उज्जवल भविष्य के नाम से हम सभी को IAS, IPS, IFS आदि का नाम याद आता है। क्योंकी यह एक नौकरी के साथ साथ एक बहुत बड़ी पहचान भी है। तो आइये आज हम इसके बारे में जानते है की IAS क्या होता है ? IAS, IPS या IFS कैसे बन सकते है ?

आज हम जानेंगे –

  • Full form of IAS
  • IAS क्या होता है ?
  • IAS के लिए क्या योग्यता चाहिए ?
  • आईएएस कैसे बनते है ?
  • IAS की परीक्षा पास करने के बाद क्या होता है?
  • IAS FAQ

Full form of IAS in English

Indian Administrative Service (IAS)

Full form of IAS in Hindi

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)

IAS क्या होता है ?

दोस्तों IAS एक तरह का एग्जाम होता है। जिसे पास करने के बाद डीएम, कलेक्टर, आईपीएस, आईएफएस आदि बन सकते है। यह परीक्षा UPSC द्वारा करवाई जाती है। इस परीक्षा को बहुत ही कम लोग पास कर पाते है। क्योंकि यह सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है।

कई लोग IAS, DM और कलेक्टर को एक ही मान लेते है। लेकिन ऐसा नहीं है। यह अलग अलग है। तो आइये इनके बारे में जानते है।

आईएएस

IAS कोई पोस्ट नहीं होती है। यह एक परीक्षा होती है। लेकिन कई लोग इसे पोस्ट मान लेते है। जैसे जब कोई व्यक्ति IAS की परीक्षा देकर उत्तीर्ण हो जाता है। तो वह IAS ऑफिसर बन जाता है। लेकिन यह कोई पोस्ट नहीं है। IAS की परीक्षा Union Public Service Commission (UPSC) द्वारा करवाई जाती है।

डीएम/ कलेक्टर

डीएम या कलेक्टर दोनों दोनों एक ही पोस्ट का नाम है। डीएम/ कलेक्टर ही IAS ऑफिसर होता है। DM को डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट यानी जिला अधिकारी कहते है। जिले की सभी कार्य की जिम्मेदारी DM की होती है।

DM एक IAS ऑफिसर भी हो सकता है और SSC कर्मचारी भी हो सकता है। फर्क बस इतना होता है। की UPSC के द्वारा आया हुआ आईएएस ऑफिसर सीधा डीएम बन सकता है। लेकिन SSC के द्वारा आया हुआ कर्मचारी प्रमोशन के बाद डीएम बनता है।

आईएएस के लिए क्या योग्यता चाहिए ? What qualification is required for IAS?

आपको पूरी जानकारी के लिए UPSC की official वेबसाइट पर जाना चाहिए। क्योंकि यँहा पर पूरी जानकारी नहीं दी जा सकती है। लेकिन फिर भी आपको के सामान्य जानकारी देते है।

  • आपको कम से कम स्नातक/ग्रेजुएट होना जरुरी है। किसी भी विषय में। विषय की कोई पाबन्दी नहीं है।
  • आपकी उम्र अप्लाई करने के समय कम से कम 21 साल होनी जरुरी है।
  • अधिकतम उम्र और परीक्षा देने के लिए एक श्रेणी बनायीं गयी है।
 परीक्षा दे सकते हैंअधिकतम उम्र
जनरल केटेगरी6 बार32 तक
ओबीसी9 बार32 तक
SC/STजितनी बार चाहे37 तक
शरीर में विक्षमताजितनी बार चाहे42 तक

शारीरिक योग्यता – Physical ability

चेस्ट – Chest

पुरुषों के लिए कम से कम 84 सेंटीमीटर। महिलाओं के लिए कम से कम 79 सेंटीमीटर।

दृष्टि – Vision

स्‍वस्‍थ आंखों का विज़न 6/6 या 6/9 होना चाहिए। कमजोर आंखों का विज़न 6/12 or 6/9 होना चाहिए।

लंबाई – Length

 पुरुषमहिला
सामान्यकम से कम 165 सेंटीमीर160 सेंटीमीटर
SC/OBSकम से कम 150 सेंटीमीर145 सेंटीमीटर

IAS कैसे बनते है ? How to become an IAS?

दोस्तों IAS के लिए सामान्य प्रक्रिया होती है। लेकिन इसमें लाखों उम्मीदवार होते है। इसलिए इसमें पास होना काफी कठिन होता है। इसमें मुख्य 3 हिस्से होते है। पहला होता है – प्रिलिम, दूसरा होता है – मुख्य परीक्षा और फिर इंटरव्यू। तो इन्हे बारी बारी से समझते है।

प्रीलिम्‍स – Prelims

प्रीलिम्‍स में 200, 200 नंबर के 2 पेपर होते है। दोनों ही पेपर MCQ होते है। मतलब 4 उत्तरों में से सही को बताना होता है।

पेपर 1

आपको 2 घंटे का समय दिया जाता है पेपर 1 को हल करने के लिए। यह 200 अंको का होता है। इसमें आपसे कुछ इस तरह के सवाल पूछे जाते है।

राष्‍ट्रीय और अंतरराष्‍ट्रीय
आर्थिक और सामाजिक विकास
भारत और विश्‍व का भूगोल
भारतीय इतिहास और भारतीय राष्‍ट्रीय आंदोलन
भारतीय राजतंत्र और गवर्नेंस
क्‍लाइमेट चेंज और जनरल साइंस जैसे आदि

पेपर 2

इसमें भी आपको 2 घंटे का समय दिया जाता है पेपर 2 को हल करने के लिए। यह भी 200 अंको का होता है। इसमें आपसे कुछ इस तरह के सवाल पूछे जाते है।

इंटरपर्सनल स्किल्‍स
एनालिटिकल एबिलिटी
कॉम्प्रिहेंशन
डिसिजन मेकिंग
लॉजिकल रीजनिंग
प्रॉब्‍लम सॉल्विंग
डेटा इंटरप्रिटेशन (चार्ट, ग्राफ, टेबल) आदि

मुख्य परीक्षा – Main exam

मुख्य परीक्षा में कुल 9 एग्जाम होते है जिनमें दो क्‍वालिफाइंग (A और B) और सात अन्‍य मेरिट के लिए हैं।

अंग्रेजी विषय के साथ साथ आपको एक अन्य भाषा चुनने का भी मौका दिया जाता है। जो नीचे लिखी है।

AssameseOdia
BengaliPunjabi
GujaratiSanskrit
HindiSindhi
KannadaTamil
KashmiriTelugu
KonkaniUrdu
MalayalamBodo
ManipuriDogri
MarathiMaithilli
NepaliSanthali

इन सभी विषयों पर परीक्षा होती है। जैसे भारतीय विरासत और संस्‍कृति, दुनिया और समाज का इतिहास, भूगोल, गवर्नेंस, संविधान, राजतंत्र, सामाजिक न्‍याय और अंतरराष्‍ट्रीय संबंध, टेक्‍नोलॉजी, इकनॉमिक डेवलपमेंट, बायो-डायवर्सिटी, पर्यावरण, सुरक्षा और आपदा प्रबंधन, आचार नीति, अखंडता, एप्‍टीट्यूड आदि।

ऑप्‍शनल सब्‍जेक्‍ट

AgricultureManagement
Animal Husbandry and Veterinary ScienceMathematics
AnthropologyMechanical Engineering
BotanyMedical Science
ChemistryPhilosophy
Civil EngineeringPhysics
Commerce and AccountancyPolitical Science and International Relations
EconomicsPsychology
Electrical EngineeringPublic Administration
GeographySociology
GeologyStatistics
HistoryZoology
Law 

भाषा में से किसी एक का चुनाव बतौर ऑप्‍शनल सब्‍जेक्‍ट कर सकते हैं।

AssameseOdia
BengaliPunjabi
GujaratiSanskrit
HindiSindhi
KannadaTamil
KashmiriTelugu
KonkaniUrdu
MalayalamBodo
ManipuriDogri
MarathiMaithilli
NepaliSanthali

सारे विषयों की लिखित परीक्षा का कुल योग 1750 होता है। अंतिम चरण का इंटरव्‍यू 275 का होता है इस प्रकार कुल अंक 2025 होते हैं।

इंटरव्‍यू – Interview

उम्मीदवार का साक्षात्कार एक बोर्ड द्वारा किया जाता है जो उनके समक्ष उनके करियर का रिकॉर्ड रखता है। उनसे सामान्य हित के मामलों पर सवाल पूछे जाएंगे। वास्तव में न केवल उनके बौद्धिक गुणों का बल्कि सामाजिक लक्षणों और उनका भी आकलन किया जाता है। करंट अफेयर्स में रुचि। न्याय किए जाने वाले गुणों में से कुछ मानसिक सतर्कता, महत्वपूर्ण शक्तियां हैं आत्मसात, स्पष्ट और तार्किक प्रदर्शनी, निर्णय का संतुलन, विविधता और ब्याज,
सामाजिक सामंजस्य और नेतृत्व की क्षमता, बौद्धिक और नैतिक अखंडता आदि ।

IAS क्या होता है ? IAS, IPS या IFS कैसे बन सकते है ?

आईएएस की परीक्षा पास करने के बाद क्या होता है? What happens after passing the IAS exam?

दोस्तों IAS की परीक्षा को पास करना बहुत ही कठिन काम होता है। यह बिल्कुल भी आसान नहीं होता है। जो दिन रात कड़ी मेहनत करते है उन्हें ही पास होने का मौका मिलता है। लेकिन जो भी इसे पास करता है उसे कुछ ट्रेनिंग दी जाती है आइये जानते है।

आईएएस की ट्रैनिंग – IAS Training

सबसे पहले सभी IAS को मैसूरी में ट्रेनिंग दी जाती है। उसके बाद उन्हें हैदराबाद में ट्रेनिंग दी जाती है। इनमे कुछ कानून से सम्बंधित होती है और कुछ शारीरिक व्यायाम से सम्बंधित होती है। सबसे पहले सभी IAS को मैसूरी में ट्रेनिंग दी जाती है। उसके बाद उन्हें हैदराबाद में ट्रेनिंग दी जाती है। इनमे कुछ कानून से सम्बंधित होती है और कुछ शारीरिक व्यायाम से सम्बंधित होती है। उसके बाद उन्हें 5 साल के लिए किसी DM के पास काम करना और सीखना होता है। ताकि उन्हें पता चल सके की एक DM काम कैसे करता है। इस पोस्ट को SDM कहते है।

SDM के बाद क्या होता है? What happens after SDM?

जब 5 पुरे हो जाते है तो उसके बाद उन्हें कलेक्टर बना दिया जाता है। फिर उन्हें किसी जिले का DM बना दिया जाता है। या फिर किसी मिनिस्ट्री में जॉइंट सेक्रेटरी बना दिया जाता है। यह पूरी तरह सरकार पर निर्भर करता है की उन्हें कँहा भेजना है। दोनों पोस्ट पर सुविधा बराबर होती है।

नौ साल के बाद क्या होता है? What happens after nine years?

जब IAS पर उन्हें 9 साल का अनुभव हो जाता है। तब उन्हें स्पेशल सेक्रेटरी का पद दिया जाता है। यह प्रमोशन का एक हिस्सा है। स्पेशल सेक्रेटरी का मतलब होता है की उन्हें किसी भी सरकारी डिपार्टमेंट का Head बना दिया जाता है। इस पुरे डेपार्टमेंट को चलाने की जिम्मेदारी दी जाती है।

पन्द्रह साल के बाद क्या होता है? What happens after fifteen years?

IAS के 15 साल पुरे करने के बाद फिर प्रमोशन किया जाता है। इस बार उन्हें मिनिस्ट्री का सेक्रेटरी बनाया जाता है। इस पोस्ट पर उन्हें मिनिस्ट्री के साथ मिलकर काम करना होता है।

बीस साल के बाद क्या होता है? What happens after twenty years?

जब IAS बने हुए 20 साल हो जाते है। तो प्रमोशन करके प्रिंसिपल सेक्रेटरी बनाया जाता है। यह एक काफी बड़ी पोस्ट है। इसलिए यह 20 साल के अनुभव पर दी जाती है। प्रिंसिपल सेक्रेटरी बनने पर भारत के बड़े बड़े राजनेताओं के साथ काम करना करने का मौका मिलता है।

अंत में क्या होता है? what happens at the end?

प्रिंसिपल सेक्रेटरी के पद पर 5 साल काम करने के बाद केंद्र के महत्वपूर्ण विभागों में चीफ सेक्रेटरी, आईएएस अफसर केंद्र में यूनियन सेक्रेटरी, या फिर राज्य का चीफ सेक्रेटरी बनने का मौका होता है। यह आपको Performance पर निर्भर करता है। की आपको कौन सा पद दिया जायेगा।

अंत में एक पोस्ट होती है कैबिनेट सेक्रेटरी ऑफ़ इंडिया। पोस्ट पर प्रधानमंत्री के साथ काम करने का मौका मिलता है। यँहा सीधे प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करनी होती है। यह सभी IAS का सपना होता है की वो एक दिन भारत के कैबिनेट सेक्रेटरी बनेंगे। लेकिन जरुरी नहीं है सभी यँहा तक पहुँचे। क्योंकि प्रधानमंत्री खुद कैबिनेट सेक्रेटरी ऑफ़ इंडिया का चयन करते है।

IAS से सम्बंधित कुछ प्रश्न। IAS FAQ

प्रश्न : आईएएस किसे कहते है? IAS kise kehte hai?

UPSC एक परीक्षा का आयोजन करती है जिसे विभिन्न प्रकार के पदों को भरने के लिए किया जाता है। जिसमे से एक IAS भी है। जिसका पूरा नाम है भारतीय प्रशासनिक सेवा Indian Administrative Service (IAS).

प्रश्न : आईएएस की सैलरी कितनी होती है? IAS ki salary kitni hoti hai?

जूनियर टाइम स्केल (वेतन स्तर 10) – ₹56,100-₹1,32,000

प्रश्न : आईएएस में कौन सी पोस्ट होती है? IAS me kon si post hoti hai?

पे मैट्रिक्स पर ग्रेड / लेवल[24][25]फ़ील्ड पोस्टिंग[1]राज्य सरकार में पोस्टिंग[1]केंद्र सरकार में पोस्टिंग[1]
कैबिनेट सचिव ग्रेड (वेतन स्तर 18)भारत के कैबिनेट सचिव
एपेक्स स्केल (वेतन स्तर 17)मुख्य सचिवसचिव
उच्च प्रशासनिक ग्रेड (सुपर टाइम स्केल के ऊपर) (वेतन स्तर 15)मंडलायुक्तप्रमुख सचिवअपर सचिव
वरिष्ठ प्रशासनिक ग्रेड (सुपर टाइम स्केल के ऊपर) (वेतन स्तर 14)मंडलायुक्तसचिवसंयुक्त सचिव
चयन ग्रेड (वेतन स्तर 13)ज़िलाधिकारीविशेष सचिवनिदेशक
जूनियर प्रशासनिक ग्रेड (वेतन स्तर 12)ज़िलाधिकारीसंयुक्त सचिवउप सचिव
सीनियर टाइम स्केल (वेतन स्तर 11)अपर ज़िलाधिकारीउप सचिवअवर सचिव
जूनियर टाइम स्केल (वेतन स्तर 10)उप ज़िलाधिकारीअवर सचिवसहायक सचिव

प्रश्न : आईएएस बड़ा होता है या आईपीएस? IAS bada hota hai ya IPS?

दोनों की जिम्मेदारी और दायित्व अलग अलग होते है। यह कहना की इनमे से कोई एक बड़ा है, गलत होगा। IAS को जिला अधिकारी पद दिया जाता है। IPS कानून व्यवस्था सँभालने की जिम्मेदारी दी जाती है।

प्रश्न : आईएएस बनने के लिए क्या जरुरी होता है? IAS banane ke liye kya jaruri hai?

आपको पूरी लगन और ईमानदारी से पढ़ना होगा। परिश्रम की सफलता की कुंजी है।

प्रश्न : आईएएस की फुल फॉर्म क्या होता है? IAS ki full form kya hoti hai?

IAS जिसका पूरा नाम है – भारतीय प्रशासनिक सेवा Indian Administrative Service (IAS).

प्रश्न : आईएएस का क्या काम होता है? IAS ka kya kaam hota hai?

आईएएस के कार्य विभिन जगहों पर विभिन्न होते है। जैसे डीएम के पद पर जिले के सभी कार्यो को देखना और उन्हें सही ढंग से सुचारु रूप से चलना। सरकार बने हुए कानूनों को ज़िले में लागु करना आदि।

पूरी जानकारी के लिए कृपया UPSC की वेबसाइट पर जाएं।

यह भी पढ़े –

आशा करता हूँ आपको ये जानकारी जरूर पसंद आयी होगी। अगर आपको ये जानकारी पसंद आयी हो तो जरूर Comment Box में बताएं और अगर आप कुछ पूछना या बताना चाहते है तो कृपया Comment करे, मैं जरूर Reply देनें की कोशिश करूँगा।

3 thoughts on “IAS क्या होता है ? IAS, IPS या IFS कैसे बन सकते है ? सभी जानकारी”

  1. Hey there, I stumbled on your site yesterday and I like the design (I’ve been making websites since 2005). What platform is it made with? WordPress?

    The only thing I noticed was that you appeared a bit low on Google search results and the home page took kind of long to load for me.

    I’ve recently joined a private group for website owners. They send free periodic tips to get your site ranking higher and improve overall performance.

    Basically, a free consulting service for website owners…

    It has really helped me improve the two sites I run. Their advice got me to double my visitors and improve loading speed.

    If you’d like to join, maybe it can help you with your website as well.

    Check it out and join here:

    https://webgeeksgroup.weebly.com/

    If you’re not interested, no worries, best of luck on your site!

    Aaron

    प्रतिक्रिया

Leave a Comment