CC, BCC Meaning in Hindi. Email में CC और BCC क्या होता है? क्या फायदे है?

दोस्तों शुरू करने से पहले एक छोटी सी कहानी सुनो – मै और मेरा दोस्त एक इंटरव्यू के लिए गए मेरे दोस्त से पूछा गया कि क्या आप कंप्यूटर चलाना जानते हैं उसने कहा कि मै बहुत अच्छे तरीके से कंप्यूटर चला लेता हूं फिर उससे पूछा कि क्या आप ईमेल कर लेते हो सही तरीके से उसने कहा कि हाँ ! और मैं ईमेल के बारे में भी सब कुछ जानता हूं तो उससे पूछा गया कि CC, BCC Meaning. Email में CC और BCC क्या होता है? क्या फायदे है? यकीन मानिए उस लड़के से इसका जवाब नहीं दिया गया ! CC, BCC Meaning in Hindi

कभी कभी ऐसे छोटे छोटे प्रश्न ही बड़े बन जाते है तो आइये आज हम इसके बारे में जानते है।

CC, BCC Meaning in Hindi. Email में CC और BCC क्या होता है? क्या फायदे है?

आज हम जानेंगे

  • CC की फुल फॉर्म क्या है?
  • BCC की की फुल फॉर्म क्या है?
  • CC क्या है
  • BCC क्या है ?
  • BCC का इस्तेमाल कँहा करें?
  • सीसी और बीसीसी के बीच अंतर?
  • CC और BCC के क्या फायदे है?
  • BCC को कैसे ऑन करें ?
  • or CC, BCC Meaning in Hindi

CC की फुल फॉर्म क्या है? CC ki full form kya hai ? (What is full form of CC?)

Full form of CC in Email – Carbon Copy

CC की फुल फॉर्म Hindi me – कार्बन कापी

BCC की की फुल फॉर्म क्या है? BCC ki full form kya hai ? (What is full form of BCC?)

Full form of BCC in Email – Blind Carbon Copy

BCC की फुल फॉर्म Hindi me – ब्लाइंड कार्बन कॉपी

CC क्या है ? CC Kya Hai ? (What is CC in Email?)

जैसाकि आपको बताया की CC कार्बन कॉपी को कहते है। मतलब आप जिसे अपनी ईमेल की कॉपी भेजना चाहते है। एक उदाहरण से समझते है –

जैसे आप एक ईमेल अक्षय को भेजना चाहते है और साथ में उसकी कॉपी अपने मैनेजर को भी भेजना चाहते है तो आप To में अक्षय की ईमेल को डालेंगे और CC में मैनेजर की ईमेल ID डालेंगे।

BCC क्या है ? BCC Kya Hai ? (What is BCC in Email?)

Blind Carbon Copy को BCC कहते है। आइए इसे भी एक उदाहरण से समझते है –

आप एक ईमेल अक्षय को भेजना चाहते है और साथ में उसकी कॉपी अपने मैनेजर को भी भेजना चाहते है और आप चाहते है की आप एक कॉपी अपने Boss को भी भेज दे लेकिन ये खबर अक्षय और मैनेजर को न पता चले तो आप To में अक्षय की ईमेल को डालेंगे और CC में मैनेजर की ईमेल ID और BCC में Boss की ईमेल ID रखेंगे।

BCC का इस्तेमाल कँहा करें? (Where to use BCC?)

ब्लाइंड कार्बन कॉपी (BCC) का इस्तेमाल वंहा किया जाता है जंहा आप उस व्यक्ति को गुप्त रखना चाहते है जैसे – आप चाहते है की मेल सभी को एक मेल करूँ और उसकी एक कॉपी अपने Boss को भी कर दूँ और ये बात किसी पता नहीं लगनी चाहिए।

उस परिस्थिति में आप अपने Boss को गुप्त रखना चाहते है इसलिए आप उनकी ईमेल ID को BCC में रखेंगे।

सीसी और बीसीसी के बीच अंतर? (Difference Between CC And BCC)

आप जिन्हे CC और TO में रखते है मतलब जिनकी भी ईमेल ID को डालते है वो सब एक दूसरे की ईमेल ID को देख सकते है। और यह पता लगा सकते है की यह ईमेल किस किस को भेजी गयी है।

इसके विपरीत आप जिन्हे BCC में रखते है उन्हें सबकी मेल ID पता चल जाएगी की यह ईमेल किस किस को भेजी गयी है। लेकिन जो भी TO और CC में था उन्हें यह पता नहीं चलेगा की BCC में किस को रखा गया है। कहने का मतलब BCC सब कुछ देख सकता है लेकिन TO और CC को पता भी नहीं चलेगा।

CC और BCC के क्या फायदे है? (What are the benefits of CC and BCC?)

CC के फायदे

  • इसमें आप एक या एक से अधिक ईमेल ID को डाल सकते है।
  • आप इसमें उन व्यक्तियों को रख सकते है जिन्हे आप सिर्फ ईमेल की एक कॉपी देना/बताना चाहते है। जैसे अपने मैनेजर, टीम लीड, सुपरवाइजर आदि को।
  • यंहा उन को रखा जाता है जिन्हे उस काम के लिए नहीं कहा गया बस उस सुचना में भागीदार बनाया गया है।

BCC के फायदे

  • इसमें भी आप एक या एक से अधिक ईमेल ID को डाल सकते है।
  • इसमें आप उनकी आईडी रखते है जिन्हे आप गुप्त रूप से उस ईमेल के बारे में बताना चाहते है। जैसे CEO, Boss, Management आदि
  • नाम से ही पता चलता है यह Blind Carbon Copy है इसके बारे में भेजने वाले और BCC में रहने वाले को पता होता है सबके बारे में पर जो भी TO और CC में होते है उन्हें BCC रहने वाले का पता नहीं चलता।

BCC को कैसे ऑन करें ? (How to turn on BCC?)

1. BCC को मोबाइल में कैसे ऑन करें? How to turn BCC on mobile?

सबसे पहले आप अपने मोबाइल में एक नही ईमेल खोलेंगे तब आपको कुछ इस तरह से दिखेगा

BCC को मोबाइल में कैसे ऑन करें? How to turn BCC on mobile?

उसके बाद आपको एक ( \/ Down Arrow ) नजर आएगा आप उस पर क्लिक करेंगे और आपके सामने CC और BCC दोनों विकल्प आ जायेंगे।

BCC को मोबाइल में कैसे ऑन करें? How to turn BCC on mobile?

2. BCC को MS Office Outlook में कैसे ऑन करें? How to turn on BCC in MS Office Outlook?

सबसे पहले आप अपने MS outlook में एक नही ईमेल खोलेंगे तब आपको कुछ इस तरह से दिखेगा

BCC को MS Office Outlook में कैसे ऑन करें? How to turn on BCC in MS Office Outlook?

उसके बाद आप Menu में से “Option” को सेलेक्ट करेंगे तब आपके एक BCC का ऑप्शन नजर आएगा उसे सेलेक्ट कर लेना है।

BCC को MS Office Outlook में कैसे ऑन करें? How to turn on BCC in MS Office Outlook?

इन्हे भी पढ़े – स्वास्थ्य बीमा क्या है और इसे खरीदने से पहले आपको किन मापदंडों की जांच करनी होगी?

इन्हे भी पढ़े – Amazon Flex के साथ Part Time काम करके ₹140 घंटा तक कमाये

आशा करता हूँ आपको ये जानकारी जरूर पसंद आयी होगी। अगर आपको ये जानकारी पसंद आयी हो तो जरूर Comment Box में बताएं और अगर आप कुछ पूछना या बताना चाहते है तो कृपया Comment करे, मैं जरूर Reply देनें की कोशिश करूँगा।

1 thought on “CC, BCC Meaning in Hindi. Email में CC और BCC क्या होता है? क्या फायदे है?”

Leave a Comment